कश्मीरा शाह ने बताई करण और निशा के रिश्ते की सच्चाई, दिखाया सबको सच का आइना

Iकरण मेहरा और निशा रावल के रिश्तो में दरार आने के बाद दोनों सुर्खियों का हिस्सा बने रहे क्योंकि निशा ने आरोप लगाया कि करण उनके साथ मारपीट करते हैं और उन्होंने अपने सिर पर लगी चोट के निशान भी दिखाएं। जिसके बाद करण को जेल में भी बंद कर दिया गया साथ ही उनकी छवि पर भी गहरे दाग लग गए। दोनों के रिश्तो को लेकर हाल ही में उनकी म्यूच्यूअल फ्रेंड कश्मीरा शाह का एक बयान सामने आया है जिसे देखकर आपके भी होश उड़ जाएंगे। कश्मीरा ने अपने बयान में दोनों के रिश्तो की सच्चाई के बारे में बताया साथ ही जिस दिन निशा ने करण पर मारपीट का आरोप लगाया था उस दिन भी वह उनके घर पर ही थी और उन्होंने अपनी आंखों से जो चीजें देखी वह सभी उन्होंने इंटरव्यू में बताई जिससे लोगों की आंखें खुल सके और लोग सही और गलत का फर्क भी समझ सके आइए बताते हैं कश्मीरा ने उनके घर में क्या देखा।

 

कश्मीरा शाह ने करण और निशा के रिश्तो को लेकर कुछ बातें इंटरव्यू में सामने रखी और उन्होंने बताया कि जब निशा के साथ यह सब हुआ था तब निशा ने उन्हें फोन करके बताया था कि उनके साथ मारपीट की गई है और वे जल्दी से उनके घर पहुंचे। कश्मीरा उनके घर गई और उन्होंने निशा से बात की। कश्मीरा ने बताया कि करन ऐसे व्यक्ति हैं जो एक मच्छर तक नहीं मारते साथ ही उनका स्वभाव भी बहुत शांत है कभी किसी ने उनको किसी से गलत बातचीत करते तक नहीं देखा और अब उन पर उनकी पत्नी द्वारा मारपीट का आरोप लगाया जा रहा है। कश्मीरा ने बताया कि वह निशा की खास फ्रेंड थी जिसके चलते उन्होंने उस समय निशा की बात सुनी और उनका साथ भी दिया लेकिन धीरे-धीरे जब बातें सामने आने लगी तो कश्मीरा के भी होश उड़ गए। आइए बताते हैं कश्मीरा  ने कौन से बड़े राज दोनों के रिश्तो को लेकर इंटरव्यू मे खोले हैं।

 

इंटरव्यू के दौरान कश्मीरा ने बताया कि जब वे निशा के घर पहुंची तब वहां एक और व्यक्ति मौजूद था और वह थे रोहित साठिया जिसके बारे में करण ने पिछले दिनों अपने स्टेटमेंट में बताया कि वह उनकी पत्नी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे हैं और निशा उन्हें अपना भाई बताती है जबकि दोनों का काफी लंबे समय से अफेयर भी चल रहा है और कश्मीरा ने भी इशारो इशारो में यही बात कही कि रोहित निशा का पक्ष ले रहे थे और उनकी गलतियों पर पर्दा डालते हुए नजर आए। साथ ही रोहित ने कश्मीरा को बताया कि जब करण निशा को मार रहे थे तब उन्होंने अपनी आंखों से देखा जबकि बाद में रोहित ने कहा कि करण ने निशा को कमरे में बंद किया और फिर उन्हें मारने लगे। इसके बाद कश्मीरा को एहसास हुआ कि वे भी कहीं ना कहीं झूठ बोल रहे हैं और फिर कश्मीरा ने करण का साथ देने का फैसला किया और उनके पक्ष में बात रखती नजर आई साथ ही लोगों को भी अपनी आंखें खोलने को कहा।

[डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज सोशल मीडिया वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. Filaska.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]