कमाल की थी मशहूर कामेडियन राजु श्रीवास्तव की लव स्टोरी… पहली ही नजर में दिल हार बैठे थे शिखा पर

सबको हंसाने वाले, सबको अपनी कॉमेडी से एंटरटेन करनेवाले राजू श्रीवास्तव (Raju Shrivastav) सबको रोता हुआ छोड़ गए हैं. 58 साल के राजू श्रीवास्तव 10 अगस्त से कार्डियक अरेस्ट के बाद से एम्स में भर्ती थे. आज यानी 21 सितंबर की सुबह उनका निधन हो गया. उनके निधन की खबर से पूरे देश में शोक की लहर दौड़ पड़ी है. एंटरटेनमेंट वर्ल्ड से लेकर राजनीतिक गलियारों तक हर तरफ बस गम का माहौल है, लेकिन उनके जाने से सबसे गमगीन उनकी पत्नी शिखा हैं, जो 10 अगस्त से लगातार हॉस्पिटल में राजू श्रीवास्तव के साथ साए की तरह रहीं. अब राजू श्रीवास्तव के संग उनका 29 सालों का साथ छूट गया है. आइए आज जानते हैं दोनों की लव स्टोरी (Raju Shrivastav’s Love Story) के बारे में.

राजू श्रीवास्तव की लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं थी. राजू श्रीवास्तव शिखा (Raju Shrivastav’s wife Shikha) को पहली ही नजर में अपना दिल दे बैठे थे और उन्हें पाने के लिए राजू ने 12 सालों तक इंतज़ार किया. तब कहीं जाकर वो शिखा का दिल जीत पाए.

अपने लेडी लव शिखा से राजू श्रीवास्तव की पहली मुलाक़ात जाने बड़े भाई की शादी में हुई थी. शादी फतेहपुर में होनी तय हुई थी और राजू के भाई कानपुर से बारात लेकर गए थे. इसी शादी में राजू ने पहली बार अपनी पत्नी शिखा को देखा था और पहली ही नज़र में उनसे प्यार करने लगे. इतना ही नहीं तभी उन्होंने फैसला कर लिया था अगर शादी करेंगे तो शिखा से और किसी से नहीं.

बस राजू जुट गए उस लड़की के बारे में सब कुछ पता लगाने में. मालूम पड़ा कि वो उनकी भाभी के चाचा की बेटी हैं और इटावा में रहती हैं. बस राजू किसी न किसी बहाने इटावा का चक्कर काटने लगे. सबसे पहले उन्होंने शिखा के भाइयों से दोस्ती की और उन्हें इम्प्रेस किया. लेकिन शिखा से वो अपने दिल की बात नहीं कह पाए.

राजू को ये भी समझ आ रहा था कि उनके प्यार की गाड़ी को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें अपने करियर पर भी ध्यान होगा. इसलिए शिखा की मोहब्बत के साथ ही उन्होंने करियर पर भी ध्यान देना शुरु कर दिया और मुंबई आ गए. यहाँ काफी स्ट्रगल के बाद जब राजू का करियर थोड़ा सम्भला तो उन्हें लगा अब शादी कर लेनी चाहिए. शिखा से सीधे दिल की बात कहने की हिम्मत राजू की नहीं हो रही थी, इसलिए उन्होंने अपनी फैमिली को उनके घर शादी का प्रस्ताव लेकर भेजा. इसके बाद शिखा के भाई मुंबई आए और राजू के बारे में पता किया, उनका घर देखा और पूरी तसल्ली होने के बाद उन्होंने शादी के लिए हामी भर दी. इस तरह 12 साल पापड़ बेलने के बाद आखिरकार 1993 में उन्हें उनका प्यार हासिल हुआ.

तब से अब तक पूरे 29 साल दोनों ने प्यार निभाया, ज़िंदगी की हर ऊंच नीच में, हर सुख दुख में साथ बने रहे, दोनों दो प्यारे से बच्चों के माता-पिता भी बने, लेकिन फाइनली आज उनका ये साथ छूट गया. ऐसे में शिखा और उनके बच्चों पर क्या बीत रही होगी, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है.

[डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज सोशल मीडिया वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. Filaska.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]