कभी पार्ले बि’स्कु’ट और चाय पीकर गुजारा करते थे राजकुमार राव, जेब में बचे थे मात्र 18 रुपये..

12 साल के करियर में राजकुमार ने कई शानदार फ़िल्में दी हैं. इनमे से कुछ में उम्दा अभिनय के लिए उन्हें अवार्ड भी मिले हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आज लाखों करोड़ों लोगों के दिलों पर राज करने वाले राजकुमार एक समय पार्ले जी खाकर दिन गुजारा करते थे.

इस बात को सुनकर हर कोई हैरान रह गया होगा, लेकिन शुरुआती दिनों में बाकियों की तरह इन्हे भी काफी संघर्ष करना पड़ा था. अपनी अपकमिंग फिल्म के प्रमोशन में व्यस्त राजकुमार ने अपनी एक्टिंग जर्नी के बारे में बात की.

साथ ही उन्होंने अपने स्ट्रगल के दिनों को याद किया. उन्होंने बताया कि एक समय ऐसा था जब उन्हें सिर्फ Parle G खाकर गुजारा करना पड़ा था. एक कार्यक्रम के दौरान बातचीत में राजकुमार ने कहा, ‘एक आउटसाइडर होने के नाते काफी मुश्किलें थीं, मैं गुरुग्राम में एक जॉ’इं’ट फैमिली में पला-बढ़ा हूं और उस समय वो एक छोटा सा शहर था.

मुझे बचपन में ही सिनेमा से प्यार हो गया था और मुझे पता था कि मैं यही करना चाहता हूं. जब मैं थिएटर कर रहा था, तब मैं दिल्ली तक साइकिल से जाता था. आना और जाना मिला कर कुल 70 किलो मीटर हो जाता था. फिर मैंने एफटीआईआई में बहुत मेहनत की, वहां मैं जितना हो सके उतना सीखना चाहता था।”

1 पैकेट बिस्किट खाकर दिन गुजारते थे अभिनेता

अभिनेता ने बेहद भावुक कर देने वाली बात का खुलासा करते हुए बताया कि, दिल्ली में थियेटर के बाद मैं मुंबई आ गया. लेकिन यहां रहना बहुत कठिन था. वह एक ऐसा वक्त था, जब मैं पारले जी के पैकेट पर पूरा दिन गुजारना पड़ता था. मेरे अकाउंट में सिर्फ 18 रुपये बचे थे.

किस्मत से फिल्म स्कूल में मुझे कुछ अच्छे दोस्त मिले थे, जो मेरी मदद करते थे. लेकिन, इस दौरान मेरे पास कोई बी प्लान नहीं था, मेरा सिर्फ एक ही सपना था और वो था एक्टर बनना।’ हालांकि मेहनत और लगन ने राजकुमार को एक दिन मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में मौका दिया और इसके बाद वह कभी भी रुके नहीं और आगे बढ़ते ही गए.

31 अगस्त 1984 को गुरुग्राम में जन्मे राजकुमार राव को पहली फिल्म साल 2010 में मिली थी. इसके बाद उन्होंने ‘रागिनी एम’एम’एस’, ‘गैं’ग्स ऑफ वा’से’पुर 2’, ‘त’ला’श’, ‘शाहिद’, ‘काई पो चे’, ‘क्वीन,’ जैसी कई फिल्मों में काम किया. लेकिन 2017 में आई फिल्म ‘बरेली की बर्फी’ उनके करियर का गेम चेंजर साबित हुई और इसके बाद शादी में जरूर आना, न्यूटन तो दमदार साबित हुई.

[डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज सोशल मीडिया वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. Filaska.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]