techparimal news

मेसी को फीफा विश्व कप की ट्रॉफी देने से पहले कतर वालों ने ये क्या कपड़ा पहनाया?

अर्जेंटीना के फीफा विश्व कप जीतने (Argentina Win FIFA World Cup 2022) के बाद एक शख्स का नाम हर किसी की जबान पर है. लियोनेल मेसी (Lionel Messi). फुटबॉल के इतिहास के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक. यूं समझो जैसे सचिन तेंदुलकर ‘क्रिकेट का भगवान’ कहे जाते हैं, वैसे ही फुटबॉल के जाबड़ प्रेमियों ने लियोनेल मेसी को ‘गॉड ऑफ फुटबाल’ का तमगा दिया हुआ है. अलग-अलग खेल का हिस्सा होने के बावजूद सचिन और मेसी में एक समानता है. दोनों को अपने करियर के अंतिम दौर में वर्ल्ड कप हाथ में लेने का मौका मिला. शायद ही फुटबॉल का कोई खिताब या प्रतियोगिता बची थी जिसे लियोनेल मेसी ने जीता ना हो. लेकिन एक कसक बनी रही जो रविवार, 18 दिसंबर 2022 को जाकर पूरी हुई. फीफा वर्ल्ड कप जीतना.

images 68 1

फ्रांस के खिलाफ बेहद कड़े और दिलचस्प मुकाबले में अर्जेंटीना ने पेनल्टी शूटआउट में बेहतरीन खेल दिखाकर जीत हासिल की. उसके बाद शुरू हुआ जश्न अभी तक थमा नहीं है. मेसी को लेकर हर तरफ चर्चा है. कहीं उनके बेमिसाल करियर की चर्चा है तो कहीं बतौर खिलाड़ी उनकी विशेषताओं के बखान सुनने को मिल रहे हैं. एक और चीज की चर्चा है. मैच के बाद अवॉर्ड सेरेमनी तो देखी ही होगी. उसमें मेसी को विश्व कप देने से ठीक पहले उन्हें एक लिबास पहनाया गया था. कई लोग जानना चाहते हैं कि अर्जेंटीना के कप्तान को कतर वालों ने क्या पहना दिया था.

mcms

मेसी ने कौन सी ड्रेस पहन ली थी?

इस पोशाक को बिश्ट कहा जाता है. ये एक लबादा होता है जो शरीर को गले से पैरों तक ढंक लेता है. बिश्ट अरब देशों के पुरुषों का सांस्कृतिक पहनावा है. आम तौर पर इसमें दो से तीन रंगों वाले कपड़े इस्तेमाल किए जाते हैं. इनमें काला और सुनहरा रंग भी शामिल है. ट्विटर पर कई लोगों ने बताया है कि बिश्ट को खास मौकों पर पहना और पहनाया जाता है. रविवार की अवॉर्ड सेरेमनी में मेसी को इन्हीं दो रंगों वाला बिश्ट पहनने को दिया गया था. उसमें अलग बात ये थी कि उसका कपड़ा जालीदार था जो उसे सामान्य बिश्ट से कुछ अलग लुक दे रहा था. इसी ड्रेस में मेसी ने वर्ल्ड कप ट्रॉफी उठाकर जश्न मनाया था.


वैसे तो इस मोमेंट को लेकर किसी तरह का विवाद देखने को नहीं मिला है. लेकिन कुछेक लोगों ने मेसी को बिश्ट पहनाए जाते वक्त थोड़ी हैरानी जरूर दिखाई थी. मसलन, बीबीसी स्टूडियो से मैच पर बात कर रहे पूर्व अर्जेंटीनियाई फुटबॉलर पाब्लो जाबालेटा ने मेसी को अरबी लिबास में देखकर कहा था- “क्यों, लेकिन क्यों? ये करने की कोई जरूरत नहीं.”

हालांकि कई लोगों ने इसे महान अर्जेंटीनियाई फुटबॉलर का सम्मान बताया है. ट्विटर पर कई आम और खास यूजर्स ने लिखा है कि कतर ने अपनी सांस्कृतिक पोशाक पहनाकर लियोनेल मेसी के प्रति आदर और सम्मान दिखाया है.