Rhea Chakraborty और भाई शोविक की बढ़ी मुश्किलें, NCB ने एक बार फिर कसा शिकंजा

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद से पूरे मामले में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती (Showik Chakraborty) पर गाज गिरी थी। एक बार फिर से इस मामले में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती (Showik Chakraborty) घिरते हुए नजर आ रहे हैं।

सुशांत की मौत के लगभग 2 साल बाद एनसीबी ने कथित तौर पर रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक के साथ अन्य लोगों के खिलाफ आरोप दाखिल किए हैं।

दरअसल अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन से पूरा देश हिल गया था। उनकी मौत के बाद कई राजों से भी पर्दा उठा था। इस के बाद बॉलीवुड दो भागों में बंट गया था, एक ओर जहां सुंशात को तंग करने वालों पर आरोप लग रहे थे वहीं दूसरी ओर बॉलीवुड का एक तबका उनके लिए न्याय की मांग कर रहा था।

इस पूरे मामले को लेकर पूरा देश सोशल मीडिया के सहारे सुंशात के लिए इंसाफ की मांग कर रहा था। सुंशात से जुड़े पूरे केस में बॉलीवुड की कई हस्तियों का नाम सामने आया था, साथ ही पूरे केस में ड्रग्स से जुड़े काले सच से भी पर्दा उठा था। अब एक बार फिर से 2 साल बाद इस केस में नया मोड़ आ गया हैं। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने इस केस से जुड़े पहलूओं का खुलासा किया हैं। 

केस में आया नया मोड़:

आपकी जानकारी के लिए बता दें किसाल 2020 में बॉलीवुड स्टार सुशांत सिंह राजपूत का निधन हो गया था। लेकिन अपने पीछे वह एक ऐसी पहेली छोड़ गए जो आज तक सुलझ नहीं पाई हैं। अब काफी लंबे समय के बाद इस केस में नया अपडेट सामने आया है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में मुंबई की विशेष अदालत में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती सहित अन्य लोगों के खिलाफ आरोप दाखिल किए गए हैं। हांलाकि अभी तक रिया (Rhea Chakraborty) के खिलाफ आरोप साबित नहीं हुए हैं, इस केस की अगली सुनवाई 12 जुलाई को होगी।

इस दिन होगी अगली सुनवाई:

आपको बता दें किसुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून 2020 को मुंबई के अपने घर फासी के फंदे में लटके मिले थे। जिसके बाद पूछताछ के लिए रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को सितंबर 2020 में हिरासत में लिया गया था। लगभग एक महीने बाद उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिली थी। अब इस केस में नया मोड़ आने के बाद देखना होगा की 12 जुलाई को अदालत का क्या फैसला आता हैं।