आज तक के साथ नई पारी शुरू करने जा रहे हैं सुधीर चौधरी

ज़ी न्यूज़ के पूर्व सीईओ सुधीर चौधरी न्यूज़ चैनल आज तक ज्वाइन करने जा रहे हैं. इंडिया टुडे ग्रुप की प्रमुख कली पुरी के दफ्तर से भेजे गए एक मेल में बताया गया है कि सुधीर चौधरी बतौर कंसल्टिंग एडिटर आजतक के साथ जुड़ रहे हैं.

इंडिया टुडे ग्रुप के एक सीनियर अधिकारी ने न्यूज़लॉन्ड्री को सुधीर चौधरी के जुड़ने की खबर की पुष्टि की है. मेल में कहा गया है कि, न्यूज़ डायरेक्टर सुप्रिया प्रसाद की देखरेख में सुधीर चौधरी नया शो करेंगे. बता दें कि 28 जून को 10 साल बाद ज़ी न्यूज़ के सीईओ और एडिटर इन चीफ के पद से सुधीर चौधरी ने इस्तीफा दे दिया था.

न्यूज़लॉन्ड्री से बातचीत में ज़ी न्यूज के कई कर्मचारियों ने कहा था कि सुभाष चंद्रा और सुधीर चौधरी के बीच सब कुछ ठीक नहीं था. कर्मचारियों ने बताया कि रजनीश अहूजा के आने के बाद कंपनी में सबकुछ धीरे-धीरे चौधरी से हटकर अहूजा के पास चला गया था. न्यूज़लॉन्ड्री ने सुधीर चौधरी और इंडिया टुडे से संपर्क करने की कोशिश की हालांकि उन्होंने इस बारे में कोई जवाब नहीं दिया है.

‘आजतक’ के साथ नई पारी के ऐलान के बीच सुधीर चौधरी का दो दिन पहले ‘ऑल इंडिया रेडियो’ (AIR) को दिया गया इंटरव्यू बहुत चर्चा का विषय बना हुआ है.

‘जी समूह’ (Zee Group) के हिंदी न्यूज चैनल ‘जी न्यूज’ (Zee News) के एडिटर-इन-चीफ और सीईओ के पद से इस्तीफे और फिर ‘आजतक’ के साथ नई पारी के ऐलान के बीच सुधीर चौधरी का दो दिन पहले ‘ऑल इंडिया रेडियो’ (AIR) को दिया गया इंटरव्यू बहुत चर्चा का विषय बना हुआ है।

तमाम प्रशंसक जानना चाह रहे थे कि आखिर सुधीर चौधरी ने किस वजह से इस्तीफा दिया और अचानक क्या हुआ जो उनको सुधीर चौधरी और ‘डीएनए’ की राहें अलग होने की खबर पुष्ट और अपुष्ट प्लेटफॉर्म से कई तरह की टिप्पणियों के साथ मिलीं। वहीं, सुधीर चौधरी ने भी बड़ा दिल दिखाते हुए अपने फैंस की फीलिंग्स का ध्यान रखते हुए उनसे माफी मांगी है।

‘आजतक’ के साथ नई पारी शुरू करने की खबरों के बीच ‘ऑल इंडिया रेडियो’ के ’एफएम गोल्ड’ चैनल पर रेडियो उद्घोषिका किरण मिश्रा के साथ सुधीर चौधरी की बातचीत का ऑडियो इन दिनों काफी वायरल हो रहा है। इस शो में सुधीर चौधरी ने ‘जी मीडिया’ से अपने इस्तीफे समेत तमाम अहम मुद्दों पर बातचीत की है।

शनिवार को एफएम रेडियो के शो में टेलिफोन पर हुई इस बातचीत के दौरान यह भी सामने आया कि सुधीर चौधरी के लिए उनके दर्शक ही सबकुछ हैं और शायद यही कारण है कि दर्शक भी उन्हें दिलोजान से प्यार करते हैं, तभी तो उनके शो ‘डीएनए’ की ‘टीआरपी’ बहुत आती थी।

किरण मिश्रा के साथ इस बातचीत के दौरान सुधीर चौधरी का कहना था, ‘अभी हाल ही में मैंने अपना शो करना बंद किया और अपनी पुरानी संस्था से बाहर निकला हूं। जब आप अपना कोई प्रोफेशनल फैसला लेते हैं, तो आप ये सोचकर लेते हैं कि ये मेरे करियर के लिए अच्छा होगा, मेरे प्रोफेशन के लिए अच्छा होगा या मेरी पर्सनल ग्रोथ के लिए अच्छा होगा, लेकिन आप अपने उन करोड़ों व्युअर्स से नहीं पूछते हैं कि क्या इस तरह का फैसला लेना सही होगा। आप उनसे यह नहीं पूछते कि क्या आप भी मेरे इस फैसले में शामिल हैं।‘

सुधीर चौधरी का यह भी कहना था, ‘जब मैंने पिछले दिनों ‘डीएनए’ करना बंद किया तो मुझे इस बात का अहसास हुआ कि कैसे करोड़ों लोग मुझसे जुड़े हुए हैं। उन्होंने आगे कहा कि हजारों ट्वीट्स पढ़कर मुझे अहसास हुआ कि मेरे दर्शक सोचते थे वे मुझसे नौ बजे मिलेंगे, लेकिन जब मैंने शो नहीं किया तो वे मायूस हुए और उनका कॉमन सवाल था कि आपने हमें बताए बिना इतना बड़ा फैसला क्यों लिया?‘

सुधीर चौधरी के अनुसार, ‘तब मुझे समझ आया कि दर्शकों का जो इतना प्यार मिलता है, इसके साथ-साथ एक जिम्मेदारी भी आती है। और उस जिम्मेदारी को निभाना, उस रिश्ते को निभाना बहुत जरूरी होता है। इस बात से मुझे सीख मिली है कि अब मैं आगे से हमेशा इस बात का ध्यान रखूंगा कि कोई भी ऐसा फैसला नहीं लेना है, जिसमें हमारे करोड़ों दर्शक शामिल नहीं हैं या जिन्हें मेरे इस तरह के किसी भी फैसले की जानकारी नहीं है।’ इस पूरी बातचीत के दौरान सुधीर चौधरी का यह भी कहना था कि वह बचपन से ही काफी अंतर्मुखी हैं और लोगों से कम बात करना पसंद करते हैं, लेकिन वह जिसके साथ घुल-मिल जाते हैं, फिर तो उससे काफी बातें करते हैं। युवा काल में वे मंच पर जाने से घबराते थे।।

यह पूछे जाने पर कि तमाम एंकर्स की तरह आप अपने शो में शोरशराबा नहीं करते, सुधीर चौधरी का कहना था कि जिनके पास कंटेंट की कमी होती है, वही ज्यादा हल्ला करते हैं। चूंकि हमारे पास कंटेंट काफी रहता है, वह काफी रिसर्च किया हुआ और पावरफुल कंटेंट रहता है, ऐसे में फिर इस तरह के शोरशराबे की नौबत ही नहीं आती है।

इस बारे में किरण मिश्रा का कहना है, ‘सुधीर जी ने तो अपने जीवन में कई इंटरव्यू किए हैं, लेकिन मैं उन चुनिंदा लोगों में हूं, जिन्होंने सुधीर जी का इंटरव्यू किया। उन्होंने बताया कि इस बातचीत के दौरान सुधीर जी ने सभी सवालों के बेबाक जवाब दिए। सुधीर जी को यदि मैं तीन शब्दों में परिभाषित करूं तो वह काफी ईमानदार, निर्भीक और सुलझे हुए पत्रकार हैं।

[डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज सोशल मीडिया वेबसाइट से म‍िली जानकारियों के आधार पर बनाई गई है. Filaska.com अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.]