Join Now

आँधे मुह गिरा सरिया और सीमेंट के दाम हुए कम, लेकिन बालू-गिट्टी के भाव ने बढ़ाई परेशानी..

बिहार :  बिहार राज्य में भवन निर्माण सामग्री बाजार में एक ओर राहत मिली है लेकिन दूसरी ओर मुश्किल बढ़ भी गई है। सरिया का भाव पंद्रह दिनों के अंदर दूसरी बार गिरा है। पांच रुपये प्रति किलो घटकर सरिया का भाव 70 रुपये किलो हो गया है। सीमेंट में 20 रुपये प्रति बैग की राहत मिली है। हालांकि बालू और गिट्टी का भाव बढ़ गया है। सरिया का भाव 85 रुपये किलो पर था। दस दिन पूर्व इसमें दस रुपये प्रति किलो की गिरावट आई थी। अब फिर इसका भाव पांच रुपये घट गया है। दादीजी स्टील्स प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक रमेश चंद्र गुप्ता ने कहा कि पंद्रह दिनों के अंदर सरिया की कीमत 15 रुपये प्रति किलो कम हुई है। स्पंज पर निर्यात शुल्क बढ़ाकर शून्य से 45 प्रतिशत कर दिया गया है। इससे स्थानीय उपलब्धता बढ़ी है। साथ ही आयरन ओर का मूल्य घटाया गया है। कच्चे माल के निर्यात पर नियंत्रण और घरेलू दर में कमी आने से सरिया में नरमी है।

पांच रुपये प्रति किलो घटकर सरिया का भाव 70 रुपये किलो हो गया है। सीमेंट में 20 रुपये प्रति बैग की राहत मिली है। हालांकि बालू और गिट्टी का भाव बढ़ गया है। कच्चे माल के निर्यात पर नियंत्रण और घरेलू दर में कमी आने से सरिया में नरमी है।

बालू, ईंट और कंक्रीट महंगा: ईंट का भाव प्रति ट्राली 500 रुपये बढ़ा है। बिहार ईंट विक्रेता संघ के अध्यक्ष मुरारी प्रसाद मन्नू ने कहा कि करीब दो माह पूर्व ईंट की कीमत 16,500 रुपये प्रति ट्राली थी। एक ट्राली में 1500 ईंट आती हैं। गिट्टी का भाव 2000 रुपये प्रति 100 सीएफटी बढ़ा है। बालू की कीमत भी 1000 रुपये प्रति 150 सीएफटी बढ़ा है। विक्रेता गणेश प्रसाद ने कहा कि यह वृद्धि एक सप्ताह के अंदर आई है। सीमेंट का भाव 420 रुपये से घटकर 400 रुपये पर आ गया है। बिल्डर्स एसोसिएशन आफ इंडिया बिहार के पूर्व अध्यक्ष एनके ठाकुर ने कहा कि सीमेंट और सरिया में राहत मिली है लेकिन खनन पर रोक लगने से बालू और स्टोन चिप्स का मूल्य इससे अधिक बढ़ गया है।

सरिया- 85 रुपये, 70 रुपये प्रति किलो
सीमेंट-420, 400 रुपये प्रति बैग
बालू-6000, 7000 रुपये, प्रति ट्राली
गिट्टी – 9000, 11000 रुपये प्रति 100 स्क्वायर फुट
ईंट- 16,500, 17000 रुपये प्रति 1500 पीस